कपाट खोलने सिर्फ पुजारी-पुरोहित ही केदारनाथ जाएंगे


आगामी 29 अप्रैल को भगवान केदारनाथ धाम के कपाट खोले जाने के समय धाम में मुख्य पुजारी के साथ उनके सेवाकार, भंडारी, संभालिया, पंथेर पुरोहित ही वहां जा सकेंगे। यात्रियों और स्थानीय लोगों के वहां जाने को लेकर अभी संशय बना हुआ है। केदारनाथ धाम की यात्रा शुरू होने में अब 17 दिन शेष हैं।

बताया जा रहा है कपाट खुलने के दिन करीब 10-12 लोग ही डोली के साथ केदारनाथ पहुंचेंगे। उधर, मार्ग से बर्फ हटाते हुए 130 सदस्यीय टीम केदारनाथ धाम पहुंच गई है। लेकिन धाम में अभी बिजली, पानी और संचार की कोई व्यवस्था नहीं हुई है।

केदारनाथ धाम की यात्रा को लॉकडाउन के चलते महज धार्मिक परम्पराओं के निर्वहन हेतु संचालित किया जाएगा। प्रशासन केदारनाथ धाम की व्यवस्थाओं पर निरंतर निगरानी कर रहा है। जल्द ही बिजली, पानी और संचार सेवाएं बहाल कर दी जाएंगी। कोरोना महामारी के चलते केदारनाथ धाम में भीड़ भाड़ को अनुमति नहीं दी जाएगी। फिलहाल तैयारियों के लिए संबंधित विभागों को निर्देशित किया गया है। मंगेश घिल्डियाल, जिलाधिकारी

प्रशासन से केदारनाथ धाम में जाने वाले कर्मचारियों को लेकर चर्चा की गई है। करीब 10 से 12 लोगों को डोली के साथ केदारनाथ भेजा जाएगा। जो नियमित केदारनाथ में रहेंगे। प्रतिदिन पूजा अर्चना, भोग आदि नियमित पूजाएं होती रहेंगी। -एनपी जमलोकी कार्याधिकारी, बीकेटीसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *